-अवधेश सेन-

घंसौर १२ नवम्बर २०१७ (युगश्रेष्ठ)। आदिवासी बाहुल्य क्षेत्र घंसौर नगर में आज भाजपा के नवनियुक्त जिला अध्यक्ष राकेश पाल ने दौरा किया जिसमें जगह जगह पार्टी जनों व अन्य लोगों ने उनका भव्य स्वागत किया। स्वागत होता भी क्यों नही जिले के पार्टी के मुखिया ने आज पहली बार नगर में कदम रखा था। मगर इसी हर्सोउल्लास के बीच भाजपाई यह भूल गए कि उन्होंने जिस जगह को पार्टी के कार्यक्रम के लिए चुना था। वह एक रेस्टहाउस था। जहाँ लोग आराम करने आते है। साथ ही इस जगह में ज्यादा शोरगुल नही किया जा सकता मगर अब इसे क्या कहें जनाव जिसकी लाठी उसकी भैस सत्ता के मद में चूर भाजपा के नगरजनो को शायद इसका अंदाजा नही था। मगर इस मुद्दे पर जब लोकनिर्माण विभाग के ह्यस्रश श्री खरे से हमने बात की तो उनका कहना था कि पार्टी का कार्यक्रम था। इसलिये दिन में दे दिया मगर अब सवाल यह उठता है। कि सत्तारूढ़ पार्टी कैसे सरकारी भवनों का इस्तेमाल कर रही है यह किसी से छुपा नहीं है पर अधिकारी भी खुल कर उनका सपोर्ट करें यह बात हजम नहीं होती।

भारतीय जनता पार्टी के जिला अध्यक्ष राकेश पाल के घंसौर आगमन पर तहसील चौक पर वाहनो के आगमन में भारी दिक्कते हुई लखनादौन मंडला मार्ग पर तहसील चौराहे के समीप वाहनो की लंबी लाइन लग गई जिससे आवागमन प्रभावित रहा और यात्रियों को परेशानी हुई, यह हाइवे मार्ग है दिन रात वाहनो का आना जाना लगा रहता है रविवार को सुबह से ही व्यवस्था चरमरा गई जब बस ,ट्रक बड़े वाहन के आने जाने घण्टो मसक्कत करनी पड़ी लेकिन जैसे ही जिलाध्यक्ष का काफिला नगर के अंदर प्रवेश किया तो  भाजपा के इस कार्यक्रम में  भाजपाई भीड़ नही जुटा सके जबकि चुनिदा भाजपाई सहित 100 से 200 लोग ही उनके साथ नजऱ आये  15 साल से  सत्ता पर भाजपा का कब्जा है लेकिन अब शायद  कही न कही भजपा में अंदरूनी  गुट बाजी झलकने लगी है ज्ञात होवे की अलग अलग जगहों पर स्वागत गेट बनाये गए थे जिससे यह साफ़ जाहिर है कि सभी भाजपाई एक दूसरे से शिकायत रखते है तभी तो सबको अपने अपने स्तर से स्वागत की तैयारी करनी पड़ी। जिलाध्यक्ष के स्वागत की तैयारी में बने 10 से 11स्वागत  द्वार में सिर्फ तहसील कार्यलय के पास बने स्वागत द्वार  में ही भीड़ भाड़ दिखी बाकि सभी गेटो में घंसौर भाजपा में अंदरुनी कलह का होना साफ़ नजऱ आया।जन चर्चा ये भी है कि इस कार्यक्रम के लिए अधिकारी और कर्मचारियों से चंदा भी वसूला गया है।

इनका क्या कहना है –

रेस्टहाउस में कार्यक्रम की कोई परमिशन नही दी गई। पार्टी का कार्यक्रम है इसलिये  दे दिया गया था।

मनोज खरे एसडीओ लोकनिर्माण विभाग लखनादौन